Article 221 In Hindi | Article 221 Of Indian Constitution In Hindi | अनुच्छेद 221 क्या है

इस पोस्ट मे आपको Article 221 Of Indian Constitution In Hindi मे बताया गया है। अगर आपको Article 221 In Hindi मे जानकारी नहीं है कि अनुच्छेद 221 क्या है, तो इस पोस्ट मे आपको इसकी पूरी जानकारी मिलेगी।

अनुच्छेद हमारे भारतीय संविधान मे दिए गए है, जिसने हर एक प्रावधान को एक अंक दिया गया है, जिसमे Article 221 भी एक है, तो चलिए जानते है इसके बारे में।

Article 221 In Hindi

अनुच्छेद 221 – न्यायाधीशों के वेतन आदि
अनुच्छेद 221(1) प्रत्येक उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों को ऐसे वेतन का भुगतान किया जाएगा जो संसद द्वारा कानून द्वारा निर्धारित किया जा सकता है और जब तक कि इस संबंध में प्रावधान नहीं किया जाता है, तब तक ऐसे वेतन का भुगतान किया जाएगा जो दूसरी अनुसूची में निर्दिष्ट हैं।
अनुच्छेद 221(2) प्रत्येक न्यायाधीश ऐसे भत्ते और अनुपस्थिति की छुट्टी और पेंशन के संबंध में ऐसे अधिकारों का हकदार होगा जो समय-समय पर संसद द्वारा बनाए गए कानून द्वारा या उसके तहत निर्धारित किए जा सकते हैं और जब तक ऐसा निर्धारित नहीं किया जाता है, ऐसे भत्ते और अधिकार जैसे कि दूसरी अनुसूची में निर्दिष्ट हैं: बशर्ते कि न तो किसी न्यायाधीश के भत्ते और न ही अनुपस्थिति की छुट्टी के संबंध में उनके अधिकारों में उनकी नियुक्ति के बाद उनके नुकसान के लिए परिवर्तन किया जाएगा।

INDIAN CONSTITUTION PART 6 ARTICLE

Article 221 Of Indian Constitution In English

Article 221 – Salaries etc, of Judges
Article 221(1) There shall be paid to the Judges of each High Court such salaries as may be determined by Parliament by law and, until provision in that behalf is so made, such salaries as are specified in the Second Schedule.
Article 221(2) Every Judge shall be entitled to such allowances and to such rights in respect of leave of absence and pension as may from time to time be determined by or under law made by Parliament and, until so determined, to such allowances and rights as are specified in the Second Schedule: Provided that neither the allowances of a Judge nor his rights in respect of leave of absence shall be varied to his disadvantage after his appointment.

नोट- इसमे कही सारी बाते भारतीय संविधान से ही ली गई है। यानी यह संविधान के शब्द है।.

अनुच्छेद 221 मे क्या है

वाद-विवाद संक्षेप – उन्होंने समझाया कि यह अनुच्छेद अनुच्छेद 104 के मसौदे के अनुरूप होने की अनुमति देगा, जिसने सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीशों के लिए वेतन, अधिकार और भत्ते निर्धारित किए हैं। संशोधन को बिना बहस के स्वीकार कर लिया गया

अन्य महत्वपूर्ण अनुच्छेद

Article 216 In Hindi
Article 217 In Hindi
Article 218 In Hindi
Anuched 219 Hindi Me
Article 220 In Hindi
Article 211 In Hindi
Anuched 212 Hindi Me
Article 213 In Hindi
Article 214 In Hindi
Article 215 In Hindi

Final Words

तो आपको Article 221 Of Indian Constitution In Hindi की जानकारी कैसी लगी नीचे कमेंट करके जरूर बताएं। इसमे मैने Article 221 In Hindi & English दोनो भाषाओं मे बताया है यानी कि अनुच्छेद 221 In Hindi? अगर इससे संबंधित कोई प्रश्न हो तो आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते है, बाकी पोस्ट को शेयर जरूर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *