|

Article 16 In Hindi | Article 16 Of Indian Constitution In Hindi | अनुच्छेद 16 क्या है?

इस पोस्ट मे आपको Article 16 Of Indian Constitution In Hindi मे बताया गया है। अगर आपको Article 16 In Hindi मे जानकारी नहीं है कि अनुच्छेद 16 क्या है, तो इस पोस्ट मे आपको इसकी पूरी जानकारी मिलेगी।

अनुच्छेद हमारे भारतीय संविधान मे दिए गए है, जिसने हर एक प्रावधान को एक अंक दिया गया है, जिसमे Article 16 भी एक है, तो चलिए जानते है इसके बारे में।

Article 16 In Hindi & English

अनुच्छेद 16– लोक नियोजन के मामलों में अवसर की समानता
(१) राज्य के अधीन किसी कार्यालय में रोजगार या नियुक्ति से संबंधित मामलों में सभी नागरिकों के लिए अवसर की समानता होगी
(२) कोई भी नागरिक केवल धर्म, मूलवंश, जाति, लिंग, वंश, जन्म स्थान, निवास या इनमें से किसी के आधार पर राज्य के अधीन किसी रोजगार या पद के लिए अपात्र नहीं होगा या उसके साथ भेदभाव नहीं किया जाएगा।
(३) इस लेख में कुछ भी संसद को किसी वर्ग या वर्ग के रोजगार या नियुक्ति के संबंध में, सरकार या किसी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश के भीतर किसी स्थानीय या अन्य प्राधिकरण के अधीन किसी कार्यालय में नियुक्ति के संबंध में कोई कानून बनाने से नहीं रोकेगा। इस तरह के रोजगार या नियुक्ति से पहले उस राज्य या केंद्र शासित प्रदेश के भीतर निवास की आवश्यकता
(४) इस अनुच्छेद में कुछ भी राज्य को किसी पिछड़े वर्ग के नागरिकों के पक्ष में नियुक्तियों या पदों के आरक्षण के लिए कोई प्रावधान करने से नहीं रोकेगा, जो राज्य की राय में, राज्य के तहत सेवाओं में पर्याप्त रूप से प्रतिनिधित्व नहीं करता है
(५) इस लेख में कुछ भी किसी भी कानून के संचालन को प्रभावित नहीं करेगा जो यह प्रदान करता है कि किसी धार्मिक या सांप्रदायिक संस्था या उसके शासी निकाय के किसी भी सदस्य के मामलों के संबंध में किसी पद का पदाधिकारी किसी विशेष धर्म को मानने वाला व्यक्ति होगा या एक विशेष संप्रदाय से संबंधित

INDIAN CONSTITUTION PART 3 ARTICLE

Article 16 Of Indian Constitution In Hindi

Article 16 – Equality of opportunity in matters of public employment.

article 16(1) There shall be equality of opportunity for all citizens in matters relating to employment or appointment to any office under the State
article 16(2) No citizen shall, on grounds only of religion, race, caste, sex, descent, place of birth, residence or any of them, be ineligible for, or discriminated against in respect or, any employment or office under the State
article 16(3) Nothing in this article shall prevent Parliament from making any law prescribing, in regard to a class or classes of employment or appointment to an office under the Government of, or any local or other authority within, a State or Union territory, any requirement as to residence within that State or Union territory prior to such employment or appointment
article 16(4) Nothing in this article shall prevent the State from making any provision for the reservation of appointments or posts in favor of any backward class of citizens which, in the opinion of the State, is not adequately represented in the services under the State
article 16(5) Nothing in this article shall affect the operation of any law which provides that the incumbent of an office in connection with the affairs of any religious or denominational institution or any member of the governing body thereof shall be a person professing a particular religion or belonging to a particular denomination

नोट- इसमे कही सारी बाते भारतीय संविधान से ही ली गई है। यानी यह संविधान के शब्द है।

Also See

Anuched 16 Kya Hai

मसौदा अनुच्छेद १० (अनुच्छेद १६) पर ३० नवंबर १९४८ को बहस हुई थी। इसने सभी सरकारी नौकरियों में अवसर की समानता प्रदान की। इसमें कहा गया है कि सरकारी रोजगार के लिए किसी भी नागरिक के साथ धर्म, नस्ल, जाति, लिंग, वंश, जन्म स्थान या निवास के आधार पर भेदभाव नहीं किया जा सकता है। इसने राज्य को किसी भी पिछड़े वर्ग के नागरिकों के लिए सार्वजनिक रोजगार में आरक्षण करने की भी अनुमति दी।

Final Words

तो आपको Article 16 Of Indian Constitution In Hindi की जानकारी कैसी लगी नीचे कमेंट करके जरूर बताएं। इसमे मैने Article 16 In Hindi & English दोनो भाषाओं मे बताया है यानी कि Anuched 16 Kya Hai? अगर इससे संबंधित कोई प्रश्न हो तो आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते है, बाकी पोस्ट को शेयर जरूर करें।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *