|

Article 31A In Hindi | Article 31A Of Indian Constitution In Hindi | अनुच्छेद 31A हिंदी में

इस पोस्ट मे आपको Article 31A Of Indian Constitution In Hindi मे बताया गया है। अगर आपको Article 31A In Hindi मे जानकारी नहीं है कि अनुच्छेद 31A क्या है, तो इस पोस्ट मे आपको इसकी पूरी जानकारी मिलेगी।

अनुच्छेद हमारे भारतीय संविधान मे दिए गए है, जिसने हर एक प्रावधान को एक अंक दिया गया है, जिसमे Article 31A भी एक है, तो चलिए जानते है इसके बारे में।

Article 31A In Hindi

अनुच्छेद 31A – सम्पदा आदि के अधिग्रहण के लिए प्रावधान करने वाले कानूनों की बचत
(१) अनुच्छेद १३ में किसी भी बात के होते हुए भी, कोई कानून प्रदान नहीं करता है
(ए) राज्य द्वारा किसी भी संपत्ति का अधिग्रहण या उसमें किसी भी अधिकार का अधिग्रहण या ऐसे किसी भी अधिकार की समाप्ति या संशोधन, या
(बी) सार्वजनिक हित में या संपत्ति के उचित प्रबंधन को सुरक्षित करने के लिए सीमित अवधि के लिए राज्य द्वारा किसी भी संपत्ति के प्रबंधन का अधिग्रहण, या
(सी) सार्वजनिक हित में या किसी भी निगम के उचित प्रबंधन को सुरक्षित करने के लिए दो या दो से अधिक निगमों का समामेलन, या
(डी) प्रबंध एजेंटों, सचिवों और कोषाध्यक्षों, प्रबंध निदेशकों, निदेशकों या निगमों के प्रबंधकों, या शेयरधारकों के किसी भी वोटिंग अधिकार के किसी भी अधिकार का उन्मूलन या संशोधन, या
(ई) किसी भी खनिज या खनिज तेल की खोज, या जीतने के उद्देश्य से किसी समझौते, पट्टे या लाइसेंस के आधार पर अर्जित किसी भी अधिकार का उन्मूलन या संशोधन, या ऐसे किसी समझौते, पट्टे या लाइसेंस को समय से पहले समाप्त करना या रद्द करना , इस आधार पर शून्य माना जाएगा कि यह

अनुच्छेद 14 या अनुच्छेद 19:- द्वारा प्रदत्त किसी भी अधिकार के साथ असंगत है, या छीन लेता है या कम करता है: बशर्ते कि जहां ऐसा कानून किसी राज्य के विधानमंडल द्वारा बनाया गया कानून है, इस अनुच्छेद के प्रावधान उस पर तब तक लागू नहीं होंगे जब तक कि ऐसा कानून, राष्ट्रपति के विचार के लिए आरक्षित होने के कारण, उनकी सहमति प्राप्त नहीं हो जाती है: बशर्ते कि जहां कोई कानून किसी संपत्ति के राज्य द्वारा अधिग्रहण के लिए कोई प्रावधान करता है और जहां कोई भूमि शामिल है उसमें किसी व्यक्ति द्वारा अपनी व्यक्तिगत खेती के तहत धारण किया जाता है, तो राज्य के लिए ऐसी भूमि के किसी भी हिस्से का अधिग्रहण करना वैध नहीं होगा, जो उस समय के लिए किसी भी कानून के तहत उस पर लागू अधिकतम सीमा के भीतर है। जब तक कि ऐसी भूमि, भवन या संरचना के अधिग्रहण से संबंधित कानून में उस दर पर मुआवजे के भुगतान का प्रावधान नहीं है, जो उसके बाजार मूल्य से कम नहीं होगी, लागू या कोई भवन या संरचना उस पर खड़ी है या उससे संलग्न है।

INDIAN CONSTITUTION PART 3 ARTICLE

Article 31A Of Indian Constitution In Hindi & English

Article 31A – Saving of laws providing for acquisition of estates, etc
( 1 ) Notwithstanding anything contained in Article 13, no law providing for
(a) the acquisition by the State of any estate or of any rights therein or the extinguishment or modification of any such rights, or
(b) the taking over of the management of any property by the State for a limited period either in the public interest or in order to secure the proper management of the property, or
(c) the amalgamation of two or more corporations either in the public interest or in order to secure the proper management of any of the corporations, or
(d) the extinguishment or modification of any rights of managing agents, secretaries and treasurers, managing directors, directors or managers of corporations, or of any voting rights of shareholders thereof, or
(e) the extinguishment or modification of any rights accruing by virtue of any agreement, lease or licence for the purpose of searching for, or winning, any mineral or mineral oil, or the premature termination or cancellation of any such agreement, lease or licence, shall be deemed to be void on the ground that it is inconsistent with, or takes away or abridges any of the rights conferred by

Article 14 or Article 19: Provided that where such law is a law made by the Legislature of a State, the provisions of this article shall not apply thereto unless such law, having been reserved for the consideration of the President, has received his assent: Provided further that where any law makes any provision for the acquisition by the State of any estate and where any land comprised therein is held by a person under his personal cultivation, it shall not be lawful for the State to acquire any portion of such land as is within the ceiling limit applicable to him under any law for the time being in force or any building or structure standing thereon or appurtenant thereto, unless the law relating to the acquisition of such land, building or structure, provides for payment of compensation at a rate which shall not be less than the market value thereof

नोट- इसमे कही सारी बाते भारतीय संविधान से ही ली गई है। यानी यह संविधान के शब्द है।.

Also See

Final Words

तो आपको Article 31A Of Indian Constitution In Hindi की जानकारी कैसी लगी नीचे कमेंट करके जरूर बताएं। इसमे मैने Article 31A In Hindi & English दोनो भाषाओं मे बताया है यानी कि Anuched 31A Kya Hai? अगर इससे संबंधित कोई प्रश्न हो तो आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते है, बाकी पोस्ट को शेयर जरूर करें।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *