|

Article 91 In Hindi | Article 91 Of Indian Constitution In Hindi | अनुच्छेद 91 क्या है

इस पोस्ट मे आपको Article 91 Of Indian Constitution In Hindi मे बताया गया है। अगर आपको Article 91 In Hindi मे जानकारी नहीं है कि अनुच्छेद 91 क्या है, तो इस पोस्ट मे आपको इसकी पूरी जानकारी मिलेगी।

अनुच्छेद हमारे भारतीय संविधान मे दिए गए है, जिसने हर एक प्रावधान को एक अंक दिया गया है, जिसमे Article 91 भी एक है, तो चलिए जानते है इसके बारे में।

Article 91 In Hindi

Anuched 91 – अध्यक्ष के कार्यालय के कर्तव्यों का पालन करने या अध्यक्ष के रूप में कार्य करने के लिए उपाध्यक्ष या अन्य व्यक्ति की शक्ति
(१) जबकि अध्यक्ष का पद रिक्त है, या किसी भी अवधि के दौरान जब उपाध्यक्ष राष्ट्रपति के रूप में कार्य कर रहा है, या उसके कार्यों का निर्वहन कर रहा है, कार्यालय के कर्तव्यों का पालन उपाध्यक्ष द्वारा किया जाएगा, या, यदि कार्यालय का कार्यालय उप सभापति भी राज्य परिषद के ऐसे सदस्य द्वारा रिक्त होता है जिसे राष्ट्रपति इस प्रयोजन के लिए नियुक्त कर सकता है।
(२) राज्यों की परिषद की किसी बैठक से अध्यक्ष की अनुपस्थिति के दौरान, उपाध्यक्ष, या, यदि वह भी अनुपस्थित है, तो ऐसा व्यक्ति जो परिषद की प्रक्रिया के नियमों द्वारा निर्धारित किया जा सकता है, या, यदि ऐसा कोई व्यक्ति नहीं है मौजूद है, ऐसा अन्य व्यक्ति जो परिषद द्वारा निर्धारित किया जा सकता है, अध्यक्ष के रूप में कार्य करेगा।

INDIAN  CONSTITUTION PART 5 ARTICLE

Article 91 Of Indian Constitution In Hindi & English

Article 91 – Power of the Deputy chairman or other person to perform the duties of the office of, or to act as, Chairman.
Article 91(1)
While the office of Chairman is vacant, or during any period when the vice President is acting as, or discharging the functions of, President, the duties of the office shall be performed by the Deputy chairman, or, if the office of Deputy chairman is also vacant, by such member of the council of States as the President may appoint for the purpose.
Article 91(2) During the absence of the chairman from any sitting of the council of States the Deputy chairman, or, if he is also absent, such person as may be determined by the rules of procedure of the council, or, if no such person is present, such other person as may be determined by the council, shall act as Chairman.

नोट- इसमे कही सारी बाते भारतीय संविधान से ही ली गई है। यानी यह संविधान के शब्द है।.

Anuched 91 Kya Hai

वाद-विवाद संक्षेप – कोई खास वाद विवाद नहीं होता है।

अन्य महत्वपूर्ण अनुच्छेद

Article 86 In Hindi
Article 87 In Hindi
Article 88 In Hindi
Anuched 79 Hindi Me
Article 90 In Hindi
Article 81 In Hindi
Anuched 82 Hindi Me
Article 83 In Hindi
Article 84 In Hindi
Article 85 In Hindi

Final Words

तो आपको Article 91 Of Indian Constitution In Hindi की जानकारी कैसी लगी नीचे कमेंट करके जरूर बताएं। इसमे मैने Article 91 In Hindi & English दोनो भाषाओं मे बताया है यानी कि Anuched 91 Kya Hai? अगर इससे संबंधित कोई प्रश्न हो तो आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते है, बाकी पोस्ट को शेयर जरूर करें।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *